नुक्ताचीनी का नया पता

घबराईये नहीं नुक्ताचीनी बंद नहीं हुई, बस अब नई जगह होती है ! नुक्ताचीनी का नया पता है http://nuktachini.debashish.com नुक्ताचीनी की फीड का पाठक बनने हेतु यहाँ क्लिक करें

Friday, September 30, 2005

नया ब्लॉग वर्गीकरण

क्षेत्रियता और विषय के आधार पर ब्लॉगों के वर्गीकरण तो होते रहते हैं, पहली बार देखा धर्म के नाम पर वर्गीकरण। गॉडब्लॉगकॉन क्रिस्तान ब्लॉगरों का पहला सम्मेलन है जो कथित रूप से इस समुदाय के ब्लॉगरों को एकजुट करेगा। एकजुट ही करना भाया, पृथकता से डर लगता है!

1 comment:

Laxmi N. Gupta said...

देबाशीष जी,

गैर कृस्तानों से पृथकता तो कट्टर कृस्तान धर्म का भाग है। उनका ही रास्ता सही है और सब गलत हैं। आज गाँधी जी का जन्मदिन है। उनसे भी यही कहा गया था कि वे कितने ही अच्छे इन्सान हों किन्तु गैर कृस्तान होने के नाते जायेंगे नरक ही। उनकी आत्मकथा में कहीं कहा गया है। कट्टर मुसलमानों का भी ऐसा ही विश्वास है। आजके global वातावरण में ऐसे विश्वास भयावह हैं। किन्तु किया क्या जाय।

लक्ष्मीनारायण