नुक्ताचीनी का नया पता

घबराईये नहीं नुक्ताचीनी बंद नहीं हुई, बस अब नई जगह होती है ! नुक्ताचीनी का नया पता है http://nuktachini.debashish.com नुक्ताचीनी की फीड का पाठक बनने हेतु यहाँ क्लिक करें

Tuesday, April 06, 2004

बकाया बातें

फिर वही दौर जब चिट्ठे पढ़ता तो हूँ पर कुछ लिखने का जी नहीं करता। ऐसे में सोचा कुछ बकाया बातें कर ली जाएं। पहले हिन्दी के तकनीकी शब्दों के प्रयोग से संबंधित एक बात। शायद आप को ञात हो, की सूचना प्रोद्योगिकी से संबंधित शब्दों के अंग्रेज़ी से हिन्दी मान्य तजुर्मे यहां उपलब्ध है।

दूसरी बात अन्य भारतीय भाषाओं में चिट्ठों की, पिछले एक चिटठे में मैंने इसका ज़िक्र किया था कि बांगला में एक भी चिट्ठा नहीं दिखा। सुकन्या दी के सहयोग से मैंने इस दिशा में कुछ शुरुआत करने की सोची और जन्म हुआ प्रथम बांग्ला ब्लॉग का। मूलतः यह चेष्टा है बांग्ला भाषिओं को बांग्ला युनिकोड का प्रयोग कर अपना चिट्ठा प्रारंभ करने के लिए प्रेरणा देने की। सुकन्या दी ने स्वयं अपना बांग्ला ब्लॉग भी शुरु किया है और जाहिर है जरुरत एक बांग्ला ब्लॉग डायरेक्टरी की भी थी।

No comments: