नुक्ताचीनी का नया पता

घबराईये नहीं नुक्ताचीनी बंद नहीं हुई, बस अब नई जगह होती है ! नुक्ताचीनी का नया पता है http://nuktachini.debashish.com नुक्ताचीनी की फीड का पाठक बनने हेतु यहाँ क्लिक करें

Saturday, December 04, 2004

भारतीय ब्लॉग मेला: आमंत्रण

हर्ष का विषय है कि भारतीय ब्लॉग मेला पहली बार किसी अन्य भाषा के चिट्ठे पर अवतरित हो रहा है।Bharteeya Blog Mela 37th Edition यह नाम भी बड़ा उपयुक्त है, हालाँकि कंक्रीट के जंगलों में मेले अब होते नहीं पर मेले का नाम ज़ेहन में आते ही मनोरंजन ध्यान आता है, एक ऐसा आयोजन जहाँ विभिन्न विषयों पर लिखने वाले, मुख़्तलिफ़ पेशे और अलाहदा परिवेश से जुड़े चिट्ठाकारों कि तरह ही विविधता होती है, गोया कि हर किसी के लिए कुछ न कुछ होता है।

तो मित्रों, ३७वें भारतीय ब्लॉग मेले में नुक्ताचीनी के आतिथ्य में आपकी प्रविष्टियाँ आमंत्रित हैं। प्रविष्टियाँ दिसंबर ३ से १०, २००४ के बीच लिखे चिट्ठों पर आधारित हों। अपनी प्रविष्टि मुझे debashish at gmail dot com ईमेल कर सकते हैं, बेहतर हो इसी चिट्ठे की टिप्पणी (कॉमेंट) के रूप में प्रेषित कर दें। प्रविष्टि भेजने की अंतिम तिथि है दिसंबर १०, २००४.

शेष शर्तें हमेशा जैसी ही :

  • चिट्ठे भारतीयों द्वारा भारतीय विषयों पर लिखे गए हों।
  • कृपया चिट्ठे की स्थाई कड़ी (पर्मालिंक) भेजें। स्थाई कड़ी के अभाव में चिट्ठे का नाम तथा तिथि का ज़िक्र करें।
  • आप अपने या/तथा दूसरों के चिट्ठे प्रस्तावित कर सकते हैं।
  • चिट्ठे व्यक्तिगत न हों।

संबंधित कड़ियाँ :

11 comments:

Debashish said...

चोला बदल कर पहचान छुपाने का अचूक मंत्र
http://rojnamcha.blogspot.com/2004/12/blog-post.html

Atul Arora [12.07.04 - 9:13 pm]

Debashish said...

कृपया बांये थूकिये

http://fursatiya.blogspot.com/2004/12/blog-post.html

अनूप शुक्ल|[12.08.04 - 8:54 am]

Debashish said...

"एक और हिंदी ब्राउज़र" by Ravi Ratlami
http://raviratlami.blogspot.com/2004/12/blog-post_07.html#comments


"हां भाइयों!" by आशीष गर्ग
http://ashishkachittha.blogspot.com/2004/12/blog-post.html#comments

"Bhery Beeji Day" by Kalicharan
http://hankabaji.blogspot.com/2004/12/bhery-beeji-day.html

पसीने का गुणधर्म from विजय ठाकुर तत्काल
http://tatkaal.blogspot.com/2004/12/blog-post_07.html#comments

"बउवा पुराण" by me
http://merapanna.blogspot.com/2004/12/blog-post_07.html

जितेन्द्र [12.09.04 - 10:01 am]

Debashish said...

Will this blog mela be limited to Hindi blogs only? Very sad indeed

Debashish [12.09.04 - 1:44 pm]

Debashish said...

Defeating CAPTCHAs by me.

Nilesh | Homepage | 12.09.04 - 6:12 pm]

Debashish said...

Requested addition of

Politics of Double Standards ... perspective Sudan at http://jiten99.blogspot.com/2004/12/politics-of-double-standards.html

and

about the flying President of Nigeria ... at
http://jiten99.blogspot.com/2004/12/flying-president.html

Regards

Jitendra Sharma [12.09.04 - 6:20 pm]

Debashish said...

I nominate my post "Chaos and Cooperation on roads"

http://ashishniti.blogspot.com/2004/12/chaos-and-cooperation-on-roads.html

Ashish Hanwadikar [12.10.04 - 1:56 am]

Debashish said...

इनविटेशन - आइये, अपनी नेशनल लैंगुएज को रिच बनायें - द्वारा
इंद्र अवस्थी
http://theluwa.blogspot.com/2004/12/blog-post.html

ika [12.10.04 - 7:01 am]

Debashish said...

ईमानदारी की मिसाल कायम करते हुए मैं अपनी निम्न प्रविष्टि वापस लेता हूँ क्योंकि यह दो दिसम्बर की थी
'इनविटेशन - आइये, अपनी नेशनल लैंगुएज को रिच बनायें '

इंद्र [12.11.04 - 12:30 am]

Debashish said...

देबाशीष भइया,

ब्लाग मेला को भूल गये क्या?
आज 11 दिसम्बर हो गयी, अभी तक मेला स्टाल नही लगा,
प्रशासन ने स्टे ले लिया है क्या?

Jitendra Chaudhary [12.11.04 - 12:49 pm]

Debashish said...

Thanks Jitendra for reminding...I decided to go for it on Sunday due to paucity on time.

Debashish [12.11.04 - 3:17 pm]