नुक्ताचीनी का नया पता

घबराईये नहीं नुक्ताचीनी बंद नहीं हुई, बस अब नई जगह होती है ! नुक्ताचीनी का नया पता है http://nuktachini.debashish.com नुक्ताचीनी की फीड का पाठक बनने हेतु यहाँ क्लिक करें

Wednesday, July 20, 2005

चांद पर चीज़

रश्क होता है गूगल के लोगों की खिलंदड़ी पर। गूगल मैप्स के कुछ लोगों का ताज़ा शगल है गूगल मैप्स पर आधारित गूगल मून। १९६९ की मानव के चंद्रमा पर पदार्पण के नासा के चित्रों पर आधारित जालस्थल। अब आप पूछेंगे कि शीर्षक में यह "चीज़" क्या बला है! ये तो आपको तभी पता चलेगा जब आप चित्र पर ज़ूम इन करेंगे।

2 comments:

अनूप शुक्ला said...

बला टालो मत.ज़रा तफसील से बताया करो भइये!

Tarun said...

Anupji ye batane wali nahi dekhne wali hai. Cheese ke shukeen ho to cheese dikhegi nahi to kisi car ki fati seat ke andar ka sponge....